Die Flagge der Europäischen Union ist zu sehen. © Goethe-Institut

रूपरेखा

यूरोपीय संघ वर्तमान में 28  देशों का समूह है (2018 की स्थिति)I 24 आधिकारिक भाषाएँ हैं, जिनमें सभी दस्तावेज़ और ईयू सम्बंधित जानकारी उपलब्ध है I ईयू की राजनीतिक कार्य–प्रणाली दो अनुबंधों  पर आधारित है (यूरोपीय यूनियन के बारे में ईयू का प्रशासन पांच संस्थाओं द्वारा किया जाता है: यूरोपीय  सम्बंधित अनुबंध)और यूरोपीय यूनियन की कार्य-प्रणाली)के बारे में अनुबंध I यूरोपियन संघ का परिचालन पांच संस्थाओं यूरोपियन परिषद्, यूरोपीय संघ परिषद्, यूरोपीय संसद, यूरोपीय कमीशन एवं यूरोपीय न्यायलय द्वारा किया जाता है I    


Der Checkpoint Charly in Berlin zeigt die Geschichte Deutschlands. © Goethe-Institut

इतिहास

जर्मनी उन छ देशों में से एक है जिन्होंने द्वितीय विश्व–युद्ध के बाद 1950 के दशक में मौजूदा ईयू की स्थापना की थीI आरम्भ यह व्यवस्था सिर्फ आर्थिक मामलों को लेकर थी जिससे व्यापर सहज हो सके I 2002 से ईयू के 19 देशों में साझा मुद्रा यूरो प्रचलित है I आजकल एक साझा राजनीति भी केंद्र-बिंदु है: जलवायु परिवर्तन से लेकर प्रकृति संरक्षण और स्वास्थ्य विदेश मामले, सुरक्षा, न्याय और  प्रवासन तक I   

उद्देश्य और मान्यताएं

ईयू के उद्देश्यों में शामिल हैं उसके नागरिकों की शांति और कुशल-क्षेम, स्वतंत्रता, सुरक्षा, बिना किसी अन्तः–स्थलीय सीमाओं के संवैधानिकता भी I समावेशन, सहिष्णुता, एकता, भेद-भाव न करना ये सभी मान्यताएं ईयू  के सदस्यों को एक दूसरे से जोड़ती  हैं I ईयू  की स्थापना के बाद से उसके सदस्य देशों में कोई भी युद्ध नहीं हुआ हैI समानता का ईयू में बड़ा महत्त्व है I इसका तात्पर्य यह है कि इसके सभी नागरिकों को कानून द्वारा समान अधिकार प्राप्त हैं I महिलाओं और पुरुषों के समान अधिकार ईयू के सभी राजनैतिक कार्यवाहियों का हिस्सा हैं और यूरोपीय एकीकरण का आधार हैं I यह सभी क्षेत्रों के लिए मान्य है I समान वेतन का नियम का अनुबंध 1957 में ही कलम-बद्ध कर दिया गया था, हालाँकि पूर्णतया अमल में नहीं आ सका है I 


Auf einer Ampel zeigt das rote Licht ein gleichgeschlechtliches weibliches Paar und das grüne Licht ein gleichgeschlechtliches männlichs Paar. © Goethe-Institut

ईयू की समान व्यवहार  की शैली

समान व्यवहार की शैली का उद्देश्य यह है कि ईयू के अधिकारों के तहत, नौकरी देने वाले और नौकरी करने वाले को आने-जाने की जो स्वतंत्रता उन्हें जर्मनी में उपलब्ध है उसमें  सहायता देनाI इसके अलावा स्वतंत्रता, अधिकार या/और ऐसे ही मामलों में सलाह देना या मुकदमा किसी अन्य अदालत में भेजना, साथ ही साथ  बेरोकटोक आवागमन  के नियम से सम्बंधित सूचना देना I सूचना जर्मन, पोलिश, स्पेनी, फ़्रांसिसी, रुमेनिया की भाषा, बल्गेरियाई भाषा में उपलब्ध हैं I

विषय के लिए लिंक

क्या आपके मन में कुछ और प्रश्न हैं ? संपर्क फॉर्म के ज़रिये हमें लिखिए I हम आपके प्रश्नों को गोपनीय रूप से युवा प्रवासी सेवा के परामर्श दाताओं तक पहुँचादेंगे I

संपर्क फॉर्म तक